Breaking News

तीन तलाक मामले में फरार चल रहे पूर्व मंत्री चौधरी बशीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है

तीन तलाक मामले में फरार चल रहे पूर्व मंत्री चौधरी बशीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

लंबे समय से बशीर पुलिस को चकमा दे रहा था। बशीर के खिलाफ उसकी पत्नी नगमा ने थाना मंटोला में तीन तलाक और ताजगंज थाने में जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था। वहीं, तीन तलाक के मुकदमे में अग्रिम जमानत के लिए प्रार्थना पत्र को एडीजे-प्रथम ने निरस्त कर दिया है। सीओ छत्ता दीक्षा सिंह ने बताया कि पूर्व मंत्री चौधरी बशीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

कोर्ट ने निरस्त किया प्रार्थना पत्र
मंटोला थाने में तीन तलाक के मुकदमे में फरार चले रहे आरोपी चौ. बशीर ने अपने अधिवक्ता रामप्रकाश शर्मा के माध्यम से अदालत में अग्रिम जमानत के लिए प्रार्थना पत्र दिया था। इसमें कहा गया है कि राजनीतिक षडयंत्र के तहत उसे झूठा फंसाया जा रहा है। उस पर लगाए गए सभी आरोप निराधार हैं। अदालत ने प्रार्थना पत्र पर सुनवाई के लिए 11 अगस्त की तारीख दी थी। इसके बाद 16 अगस्त की तारीख लगी। फिर इस मामले में 18 अगस्त को सुनवाई हुई। अपर जिला शासकीय अधिवक्ता राधा कृष्ण गुप्ता ने बताया कि न्यायालय ने मामले के तथ्य और परिस्थितियां और अभियुक्त के आपराधिक इतिहास को देखते हुए अग्रिम जमानत प्रार्थना पत्र को निरस्त कर दिया।

23 जुलाई को दिया था तीन तलाक
चौ. बशीर की पत्नी नगमा को पता चला कि उसका पति 23 जुलाई को शाइस्ता नाम की महिला से 6वीं शादी कर रहा है, तो वह पति के घर पहुंची और शादी रोकने की कोशिश की। इसके बाद पति चौधरी बशीर ने उसे सबके सामने 3 बार तलाक कहकर वहां से निकाल दिया। नगमा की शिकायत पर पुलिस थाना मंटोला में बशीर के खिलाफ तीन तलाक का मुकदमा दर्ज कर लिया। इसके बाद नगमा ने बशीर पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया। पुलिस अभी तक बशीर को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *